आपको हर दिन सोचना होगा की अपने शिक्षण और सेवा को कैसे बेहतर बनाया जा सकता है


  1. शिक्षण में रचनात्मकता लाना ।
  2. विद्यार्थियों के भी विचार लेना उन्हें सुचारू रूप से उचित एवं अनुचित का ज्ञान कराना।
  3. शिक्षण की विधि को सरलतम बनाना ताकि कमजोर छात्र को भी लाभ मिल सके।
  4. छात्रों को शिक्षण विधि के द्वारा क्रियान्वित करने के साथ - साथ , बाहरी गतिविधियों एवं खेल के द्वारा भी सेवा दी ज सकती है ।D:\Photos\103_PANA\IMG_5943.JPG

हमारी सीख ' आइसक्रिम मेकर ' लेखक - सुबीर चौधरी
समूह अध्यापकगण -
आयशा टाक, प्रेरणा राठौड़, सुरेश नेगी & स्वाति सूद - The Fabindia School

No comments:

Blog Archive