छोटी - छोटी बातों की तरफ ध्यान देना आवश्यक

किसी भी छोटी सी बात पर अगर हम शुरू में ध्यान नहीं देंगे तो बाद मे वही छोटी सी बात आगे चलकर कोई बड़ी मुसीबत बन जाती है ।परन्तु बच्चे के लिए वह बात बहुत जरूरी हो सकती है । अध्यापक बच्चों को जो भी चीज सिखाती है वह बच्चे बहुत जल्दी ग्रहण करते हैं । परन्तु कक्षा में कुछ बच्चे बहुत जल्दी सीखते हैं एवं कुछ धीरे सीखते हैं ।सभी बच्चों की समझने की शक्ति एक जैसी नही हो सकती हैं , तो अध्यापक को एक ही चीज को बार - बार दोहराना जरूर चाहिए ताकि सभी बच्चों को एक जैसा समझाने का प्रयास किया ज सकें ।

बच्चे अगर कोई छोटी सी गलती भी करें , तो उनको उसी समय समझाकर या किसी और तरीके से उनकी गलती में सुधार करवा सकते है ।उदाहरण के तौर पर अगर कोई बच्चा किसी अक्षर की बनावट सही तरीके से नहीं बना पा रहा है तो बार - बार प्रयास द्वारा सुधार किया जा सकता है । किसी की गलतियों को बार - बार अनदेखा नही करना चाहिए ।
हमारी सीख ' आइसक्रिम मेकर ' लेखक - सुबीर चौधरी
समूह अध्यापकगण, आयशा टाक, प्रेरणा राठौड़, सुरेश नेगी & स्वाति सूद - The Fabindia School

No comments:

Blog Archive