Sunday, January 21, 2018

शीर्षक के अनुसार" गुणवक्ता ग्राहकों द्वारा परिभाषित होता है

जिस तरह किसी भी दुकान के सामान की गुणवक्ता उसको उपयोग करने वाले ग्राहक बताते है
उसी तरह कक्षा मै पढ़ने वाले विद्यार्थियों का ज्ञान शिक्षक तथा स्कूल मै मिलने वाले ज्ञान के बारे मै बताता है ! कक्षा मै विद्यार्थी कितना ध्यान लगाकर पढता है तथा अध्यापक विषय का ज्ञान देते हुए उसको कितना रोचक बनाता है इस बात का पता विद्यार्थी के ग्रहण करने की शक्ति से पता चलता है इसलिए बालको को पढ़ाते समय शिक्षक को विषय का संपूर्ण ज्ञान होने के साथ साथ रोचक बनाना भी आवश्यक है !



हमारी सीख -"आइस क्रीम मेकर " से
लेख़क -सुबीर चौधरी
कुसम शर्मा ,राजेश्वरी ,उर्मिला ,इशू  चौहान - The Fabindia School

No comments:

Post a Comment

Success Story

Success Story
Three Keys to the Successful Launch of our Professional Learning Program

Blog Archive