Friday, November 13, 2020

मेरा प्रिय त्योहार दीपावली - राजेश्वरी राठौड़

सभी त्त्योहार  हर्षोल्लास के साथ मनाया जाते हैं पर मेरा पसंदीदा त्योहार दीपावली है। दीपावली का त्योहार सभी के जीवन को खुशी प्रदान करता है नया जीवन जीने का उत्साह प्रदान करता है। यह त्योहार कार्तिक मास की अमावस्या के दिन मनाया जाता है। अमावस्या के दिन अंधेरी रात जगमग असंख्य दीपों से जगमग ने लगती है। यह त्योहार पांच दिनों तक मनाया जाता है। धनतेरस से भाई दूज तक यह  त्योहार चलता है। अमावस्या यानी कि दिवाली  का मुख्य दिन इस दिन लक्ष्मी जी की पूजा की जाती है खील बताशे का प्रसाद चढ़ाया जाता है। 

इस त्योहार  के कई दिनों पहले से ही घरों की सफाई लिपाई- पुताई सजावट प्रारंभ हो जाती हैं मिठाइयां तरह तरह की बनाई जाती है। इस दिन देवी लक्ष्मी जी की पूजा की जाती हैं इसलिए उनके आगमन और स्वागत के लिए घरों की सजावट की जाती है इस दिन भगवान श्री राम माता सीता और लक्ष्मण चौदह वर्ष का वनवास पूरा करके अपने घर अयोध्या लौटे इस खुशी में अयोध्या वासियों ने अपने घरों में दिए जलाकर खुशियां मनाई जब से दीपावली का पर्व बड़े हर्ष उल्लास से मनाया जाता है।

 इस दिन सभी नए कपड़े पहनते हैं दुकानों बाजारों और घरों की सजावट दर्शनीय रहती है। अगले दिन परस्पर भेंट का दिन होता है एक दूसरे को दीपावली की शुभकामना दी जाती है लॉग छोटे-बड़े  अमीर गरीब का भेद भूलकर आपस में मिलजुल कर त्योहार मनाते हैं त्योहार जीवन में खुशियां प्रदान करता है और नया जीवन जीने का उत्साह प्रदान करता है।

राजेश्वरी राठौड़
The Fabindia School
rre@fabindiaschools.in

No comments:

Post a Comment

Success Story

Success Story
Three Keys to the Successful Launch of our Professional Learning Program

Blog Archive