Tuesday, December 22, 2020

कलम की ताकत - राजेश्वरी राठौड

Courtesy: ru.depositphotos.com
"कलम तलवार की तुलना में शक्तिशाली है" का अर्थ है कि कलम बेहद शक्तिशाली है आकार में छोटी होने के बावजूद यह उन चीजों को पूरा करने की शक्ति रखती हैं जो एक शक्तिशाली तेज धार वाली तलवार पूरा नहीं कर सकती कलम तलवार से भी अधिक शक्तिशाली है इसका मतलब की लेखन का कार्य हिंसा के कार्य की बजाए लोगों पर अधिक प्रभाव डाल सकती हैं। 

यह कलम अंधकार को मिटाकर प्रकाश उजागर करती है। कलम ऐसे चमत्कार पैदा कर रही है जैसे की लिखित जानकारी ज्ञान के रूप में फैल जाती हैं जो लोगों के जीवन काल के लिए संरक्षित हैं। इतिहास इस बात का प्रमाण है कि लेखकों ने अपने लेखन के माध्यम से दुनिया को बदल दिया है। महात्मा गांधी, जॉन कीट्स, स्वामी विवेकानंद और कई अन्य लोगों ने अपने लेखन के माध्यम से समाज व देश में सुधार किये हैं। लेखक अपने उपदेश और ज्ञान के माध्यम से विभिन्न सामाजिक बुराइयों के खिलाफ लड़ते हैं और समाज में परिवर्तन लाते हैं। यह कलम है जो पुस्तक को शक्तिशाली बनाती है ऐसी पराक्रमी कलम है।

लेखन लोगों को सामाजिक या राष्ट्रीय बुराई के खिलाफ खड़े होने के लिए एकजुट कर सकता है। कलम की शक्ति को इस तथ्य से भी समझा जा सकता है की परीक्षा आदि के दौरान उत्तर पुस्तिका में लिखा गया एक गलत उत्तर हम पर भारी पड़ सकता है। लेखक आने वाली पीढ़ियों के लिए महत्वपूर्ण ज्ञान और जानकारी को कलम बंद कर सके। कलम यह बताती है कि शब्दों में बल से अधिक प्रभावी ढंग से समस्याओं को हल करने की क्षमता है। कलम का जीवन में बहुत महत्व है।

राजेश्वरी राठौड
The Fabindia School
rre@fabindiaschools.in

No comments:

Post a Comment

Success Story

Success Story
Three Keys to the Successful Launch of our Professional Learning Program

Blog Archive

Total Pageviews