Monday, January 25, 2021

Simplicity and Trust - Visionary JMMS

Simplicity and Trust are parallel to each other. As teachers simplicity can be defined among the students' innocence, they ask many questions without even knowing whether the answers will make sense, but the teacher has to answer the child as they know their mind is crystal clear and they simply trust what they listen.  

So as educators we should also respect this bond or behaviour which they create with us. Which gradually leads them to be keen to take interest in the class and practice their lessons as well.
वैसे तो हम अपने बचपन से अपने माता पिता तथा सारे वातावरण से सभी कुछ सीखते हैं। लेकिन हमारे स्कूल की प्रिंसिपल  मैम से हमने सादगी से जीवन जीना सीखा है। वह हमेशा बहुत ही साधारण कपड़े पहनती और सादा भोजन करती थी। दही चावल उनका पसंदीदा भोजन था। वह हमेशा रेल के साधारण डिब्बे में सफर करती थी, सफर के दौरान वह केवल पाव भाजी खाती थी। घर पर अपना काम स्वयं करना उन्हें पसंद था। सफर में उनको सोने तथा बैठने के लिए खास सुविधा की जरूरत नहीं होती थी। वह ईश्वर के साथ-साथ दूसरों पर भी अटूट विश्वास  रखती थी। बड़े से बडे संकट मे भी वह घबराती नहीं थी। दुख के समय वह हमेशा दूसरों का सहारा बनती थी। स्कूल के बच्चों पर उनका हमेशा प्यार और विश्वास रहता था।

Visionary JMMS @John Martyn Memorial School, Salangaon Dehradun - Parineeta Negi, Ambika Gurung, Manmohan Kaur and Bharti Dangwal.

1 comment:

Monisha said...

Simplicity and trust are interdependent on each other. The simpler you are, the easier it is to trust you!