Thursday, March 25, 2021

Humility and Appreciation - Achievers JMMS

HUMILITY 

" Never look down on anybody unless you are helping them to come up".

Humility is the quality of not thinking that you are better than others. It is humble towards everyone. It means understanding the pains, delights and needs of others and taking their problems as your own.

Humility means not drawing attention to yourself but to others. It is the attitude that you have no special importance that makes you better than others or lacks pride. For example, when we are in some competition with others and win the competition, we should say them 'good work' rather than saying you have lost.

Humility is the most important asset which can be used for self-improvement. It is helpful for inner well being. It is important to value to become a better human being.

APPRECIATION 

"Let us be grateful to the people who make us happy. They are the charming gardeners who make our souls blossom."

Appreciation means motivating someone. It understands that something is valuable and important. It is the feeling of gratitude towards someone. For example, in the class, we should use good words for children to motivate them. We should never demoralize students for anything. We should appreciate them for short things or for the short task which they do.

 विनम्रता और सराहना पर कहानी 

 यह कहानी  है एक बच्चे की जो गांव से कक्षा 5 पास कर शहर अपने चाचा जी के पास पढ़ने आया था I उस  बच्चे का नाम था रोहित I उसके चाचा जी ने उसे कक्षा 6 में दाखिला दिलाया I उसकी पढ़ाई पर बहुत ध्यान दिया घर में खुद पढ़ाया और ट्यूशन लगाई पर रोहित को कुछ भी समझ ना आता था और वह फेल हो गया I  उसके चाचा जी तथा अन्य सभी उसे कोसने लगे , डांटने लगे और उसे वापस गांव छोड़ने का मन बना लिया गया I

 वहीं पड़ोस में एक लड़की रहती थी रीना जिसका रोहित के चाचा जी के घर आना जाना था I  रीना को जब पता चला कि बच्चे को गांव भेजा जा रहा है तो उसने घरवालों को  विनम्रता से समझाया और बच्चे को खुद पढ़ाने का इरादा जताया और वादा किया कि वह बच्चे को सिखा कर रहेगी I  रोहित के चाचा जी मान गए रीना ने अपने घरेलू कामों से समय निकालकर बच्चे को पढ़ाया I  अब पढ़ाई में दिलचस्पी लेने लगा फिर रोहित  ने पीछे मुड़कर नहीं देखाI रीना की विनम्रता के कारण रोहित पर सका और आज एक सफल सॉफ्टवेयर इंजीनियर है I  आज  भी आसपास के सभी लोग रीना की सराहना करते हैं I

Achievers JMMS @ John Martyn Memorial School Salangaon - Sweta Thapli, Meena Kukreti,  Jyoti Joshi and Nisha Pundir

No comments: