Tuesday, July 27, 2021

सफलता और कड़ी मेहनत: आयशा टॉक

Courtesy- www.mything.in
सफल लोग वहीं करते हैं, जो उन्हें अच्छा लगता हैं। और वे वहीं करते है जो उन्हें अपने व्यवसाय के लिए सही लगता है। यदि आप शब्दकोश में सफलता शब्द का अर्थ देखें तो आप पाएँगे कि इसका अर्थ किसी के लक्ष्य या लक्ष्य की प्राप्ति है। तो मूल रूप से कोई भी अपने लक्ष्य को प्राप्त करके ही सफलता प्राप्त कर सकता है। लोग अपनी सफलता का मूल्यांकन करने के लिए विभिन्न लोगों के प्रदर्शन की तुलना करते है।

लेकिन सफलता कोई ऐसी चीज़ नहीं है, जिसे आप दूसरों से कॉपी कर सकते हैं। सफलता पाने के लिए आपको अपना रास्ता खुद बनाना होगा। यह कुछ लोगों को अनुपयुक्त लग सकता है, लेकिन सफलता मेहनत पर निर्भर करती है। बिना मेहनत किये आप सफल नहीं हो सकते है। कड़ी मेहनत का मतलब ये नहीं है कि आप कोई ऐसा मेहनती काम करें जिससे आपको पसीना आए।


कड़ी मेहनत का मतलब है स्वस्थ शरीर, मजबूत दिमाग, इच्छाशक्ति और चीजों के प्रति सकारात्मक रवैया रखना। उन सभी चीजों के लिए आपको ऊर्जा की जरूरत होती है। इसलिए, अपने शरीर और आत्मा के प्रति चौकस रहें। इसके अलावा केवल अपने कार्यक्रम पर कार्य न करें, अपनी कार्य सीमा को आगे बढ़ाएँ, अन्य चीजों का प्रभार लें, अपने कौशल में सुधार करें और सबसे महत्त्वपूर्ण बात सीखते रहें।


इसके अलावा सकारात्मक लोगों के साथ रहें, सकारात्मक आदतें विकसित करें और न केवल अपने शरीर बल्कि अपने दिमाग के लिए भी व्यायाम करें। संक्षेप में हम कह सकते है कि सफलता एक बीज की तरह है जिसे जीवन के सभी तत्वों के संतुलित अनुपात की आवश्यकता होती है। कोई भी व्यक्ति एक दिन में सफलता प्राप्त नहीं कऱ सकता है और सफल होने के लिए उसे जीवन में विभिन्न परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है। सबसे बढ़कर सफलता तृप्ति की भावना है जो अपने लक्ष्य को प्राप्त करते समय महसूस करते है।


Ayasha Tak

atk@fabindiaschools.in

The Fabindia School, Bali

No comments:

Blog Archive